Connect with us

बिज़नेस

दिवाली तक और रूलाएगा प्‍याज, आलू भी लगाएगा हाफ सेंचुरी

Published

on

दिल्‍ली में खुदरा भाव 80 रुपये प्रति किलो, अभी बिक रहा है 45 रुपये प्रति किलो

नई दिल्ली। त्‍योहारी सीजन दशहरा और दिवाली से पहले देशभर के बाजारों में सब्जियों के दाम लगातार आसमाने छू रहे हैं। राजधानी दिल्‍ली में प्‍याज का खुदरा भाव 80 रुपये प्रति किलो है। मुंबई में प्‍याज एक दिन खुदरा में 100 रुपये प्रति किलो और चेन्‍नई में 73 रुपये प्रति किलो तक बिका। वहीं, सब्जियों का राजा आलू भी हाफ सेंचुरी की दौर में शामिल हो गया है। वैसे हरी सब्जियां भी काफी महँगी हो गयी है। लोगों को इस महंगाई में सब्जी खरीद पाना मुश्किल हो गया है। दिल्‍ली में आलू का खुदरा भाव 40-45 रुपये प्रति किलो है।

एशिया के सबसे बड़ी आजादपुर मंडी के आढ़ती एच. एस. भल्‍ला ने एक बातचीत में शुक्रवार को बताया कि प्‍याज का थोक भाव 60-65 रुपये प्रति किलो रहा। लेकिन, देश के सबसे बड़ी प्‍याज मंडी लासलगांव में गांव में प्‍याज का थोक भाव एक दिन पहले 80 रुपये प्रति किलो के पार चला गया था। भल्‍ला ने कहा कि प्‍याज की बढ़ती कीमत की वजह सप्‍लाई में कमी और बेमौसम बारिश की वजह से फसल का खराब होना है।

बारिश से प्‍याज की 50 फीसदी फसल खराब

दरअसल कर्नाटक, आंध्र, मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र से इस समय खरीफ के प्याज की उपज बाजार में आती है। लेकिन, इन सभी राज्यों में भारी बारिश की वजह से 50 फीसदी फसल खराब हो गई। इसके साथ ही बारिश ने महाराष्ट्र और नासिक में प्याज के पुराने स्टाक की क्वालिटी पर भी असर डाला है। हालांकि त्‍योहारी सीजन में प्‍याज की आपूर्ति बढ़ाने और कीमतों पर अंकुश लगाने के लिए केंद्र सरकार ने दो दिन पहले ही आयात के नियमों में ढील दी है। इसके साथ ही कीमतों पर अंकुश लगाने के लिए बफर स्टॉक से ज्यादा प्याज की बाजार में आपूर्ति करने का भी फैसला किया है।

Trending