ओमिक्रॉन की दहशत : दुनियाभर में अब तक 11500 उड़ानें रद

कोरोना वायरस के नए वेरिएंट को लेकर दुनियाभर में दशहत का माहौल बना हुआ है। ऐसे में कई देशों में कोरोना पर काबू पाने के लिए पाबंदिया लगाना शुरू कर दिया है। इस बीच, अमेरिका से लेकर भारत तक संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है।
 
ओमिक्रॉन की दहशत : दुनियाभर में अब तक 11500 उड़ानें रद 

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के नए वेरिएंट को लेकर दुनियाभर में दशहत का माहौल बना हुआ है। ऐसे में कई देशों में कोरोना पर काबू पाने के लिए पाबंदिया लगाना शुरू कर दिया है। इस बीच, अमेरिका से लेकर भारत तक संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। कई देशों में इसे लेकर प्रतिबंध फिर से लगाने की तैयारियां भी हो चुकी हैं। इस बीच एक बार फिर कोरोना का काला साया विमानन उद्योग पर दिख रहा है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, बीते शुक्रवार से लेकर अब तक दुनियाभर में 11,500 से ज्यादा उड़ानों को रद्द किया गया है। 

नए साल के मौके पर इस तरह से उड़ानों का रद्द होना पर्यटकों और एयरलाइंस कंपनियों दोनों के लिए परेशानी का सबब बन गया है। उड़ानों पर नजर रखने वाली फ्लाइटअवेयर के मुताबिक, ओमिक्रॉन के बढ़ते प्रकोप का असर दुनियाभर में पड़ रहा है। वहीं, सोमवार को करीब 3000 उड़ानों को रद किया गया था, जबकि मंगलवार को 1100 और फ्लाइटों को रद्द किया गया है।

अमेरिका और ब्रिटेन समेत दुनिया के कई देशों में ओमिक्रॉन के खतरे के बीच कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित लोगों की संख्या में तेज इजाफा देखने को मिल रहा है। यूरोप और संयुक्त राज्य अमेरिका के कई राज्यों में कोरोना के मामले फिर रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचने लगे हैं। 

दुनियाभर में उड़ानों को रद्द किए जाने के आंकड़ों को देखें तो शुक्रवार से अब तक करीब 11,500 उड़ानों को रद्द किया गया है, जबकि हजारों की संख्या में उड़ानें देरी से चल रही हैं। एयरलाइंस कंपनियों की मानें तो कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के खौफ के चलते स्टाफ की कमी हो गई है, जिससे ये बड़ी परेशानी खड़ी हो गई है।