अफगानिस्तान में खड़ा हो सकता है स्वास्थ संकट, 500 टन मेडिकल सहायता रुकी

अफगान के लोगों के लिए जाने वाली सैकड़ों टन मेडिकल सामग्री फंस गई है।
 
who
अफगानिस्तान संकट

काबुल। तालिबान के कब्जे के बाद अफगानिस्तान में सुरक्षा हालात के मद्देनजर काबुल एयरपोर्ट को बंद कर दिया गया है, जिसके कारण अफगान के लोगों के लिए जाने वाली सैकड़ों टन मेडिकल सामग्री फंस गई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने सोमवार को कहा कि करीब 500 टन मेडिकल सप्लाई और बच्चों को दी जाने वाली खाद्य सामान की आपूर्ति बाधित हुई है।
 
गौरतलब है कि अफगानिस्तान के बदतर हालात को देखते हुए यहां पर मदद की सख्त जरूरत है। तालिबान के कब्जे के बाद तमाम लोग यहां पर बिना खाए और बिना मेडिकल सुविधाओं के जीवन गुजारने पर विवश हैं।
डब्लूएचओ के इमरजेंसी डायरेक्टर डॉक्टर रिचर्ड ब्रेनन ने यह जानकारी दी कि इस बीच सहायता एजेंसियों का कहना है कि अफगानिस्तान में करीब 3 लाख लोग बेघर हो चुके हैं। यह लोग हालात से जूझने को विवश हैं।
वहीं देश की करीब आधी जनसंख्या के लिए बाहर से आने वाली मदद ही एकमात्र सहारा है, लेकिन काबुल स्थित हामिद करजई इंटरनेशनल एयरपोर्ट के बंद होने से कॉमर्शियल फ्लाइट्स के लिए यहां तक पहुंच पाना मुमकिन नहीं है। जबकि दुनियाभर की निगाहें अफगानिस्तान से निकलने वालों पर लगी हैं। हमें उन लोगों की चिंता करनी चाहिए जो पीछे छूट गए हैं।