Connect with us

देश

संदेसरा घोटाले में कांग्रेस नेता अहमद पटेल से पूछताछ

Published

on

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं। संदेसारा घोटाला मामले में शनिवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की तीन सदस्यीय एक टीम ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के सलाहाकार माने जाने वाले अहमद पटेल से पूछताछ की।

पीएनबी घोटाले से भी बड़ा घोटाला

संदेसरा घोटाला 11,500 करोड़ रुपये वाले पीएनबी बैंक घोटाले से भी करीब तीन हजार करोड़ रुपये से ज़्यादा का बताया जा रहा है। इसी सिलिसले में ईडी ने शनिवार को पटेल के दिल्ली स्थित आवास पर पहुंचकर उनसे पूछताछ की।

दो बार भेजा था समन

इससे पहले ईडी ने दो बार समन भेजकर राज्यसभा सांसद अहमद पटेल को पूछताछ के लिए बुलाया था लेकिन पटेल ने बढ़ती उम्र और कोरोना संकट का हवाला देते हुए जाने में असमर्थता जताई थी। इस पर ईडी अधिकारियों ने उनके घर जाकर यह कार्रवाई की है।

क्या है संदेसरा घोलाटा

संदेसरा घोलाटा वर्ष 2017 में तब सामने आया था, जब सीबीआई ने गुजरात की एक फार्मा कंपनी स्टर्लिंग बायोटेक लिमिटेड (एसबीएल) के मुख्य प्रमोटर- नितिन संदेसरा, चेतन संदेसरा और दिप्ति संदेसरा के ख़िलाफ़ बैंकों से धोखाधड़ी करने का मामला दर्ज़ किया था। इन तीनों पर आरोप है कि इन्होंने आंध्र बैंक, यूको बैंक, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई), इलाहाबाद बैंक और बैंक ऑफ इंडिया (बीओआई) की अगुवाई वाले बैंकों से करीब 14,500 करोड़ रुपये का लोन लेकर उसे जान-बूझकर वापस नहीं किया। इतना बड़ा बैंक घोटाला सामने आते ही नितिन संदेसरा, चेतन संदेसरा और दिप्ति संदेसरा देश छोड़कर भाग गए। सरकार इन्हें भगोड़ा घोषित कर चुकी है।
सूत्रों के अनुसार ईडी ने जांच में पाया कि स्टर्लिंग बायोटेक ने बैंकों से कर्ज लेने के लिए अपनी प्रमुख कंपनियों की बैलेंस शीट में आंकड़ों की हेराफेरी की थी और कर्ज़ लेने के बाद उन्होंने उस राशि को अलग-अलग तरीकों से उन कार्यों में लगा दिया, जिसके लिए लोन लिया ही नहीं गया था। इसी मामले में पिछली 27 जून को ईडी एसबीएल/संदेसरा ग्रुप की 9,778 करोड़ रुपये की संपत्ति भी जब्त कर चुकी है। जांच-पड़ताल में गवाहों ने अहमद पटेल, उनके बेटे फैसल पटेल और उनके दामाद इरफान सिद्दीकी का नाम भी लिया था। इसलिए पिछले साल इसी मामले में ईडी अहमद पटेल के बेटे फैसल से भी पूछताछ कर चुकी है।
.

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

देश

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ तृणमूल ने निकाली रैली

Published

on

चुचुड़ा(हुगली)। एक ओर राज्य में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए कई स्थानों पर लॉकडाउन चल रहा है  है तो वहीं दूसरी तरफ पेट्रोल और डीजल की लगातार बढ़ रही कीमतों के खिलाफ गुरुवार शाम हुगली-चुचुड़ा नगरपालिका अंतर्गत पीपुलपति मोड़ से कामारपाड़ा मोड़ तक तृणमूल कांग्रेस की ओर से रैली निकाली गयी।

क्या कहा स्थानीय विधायक असित मजेदार ने?

यह रैली स्थानीय विधायक असित मजेदार के नेतृत्व में निकाली गयी। इस रैली में बड़ी संख्या में तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया। इस दौरान असित मजूमदार ने कहा कि देश की आम जनता लगातार बढ़ रही डीजल और पेट्रोल की कीमतों से परेशान हैं। जनहित में यह रैली निकाली गई है।
Continue Reading

देश

सैक्स रैकेट चलाने वाली होटल संचालिका व ड्राइवर गिरफ्तार

Published

on

भिवानी। दादरी शहर के दिल्ली बाईपास स्थित एक होटल में चल रहे सैक्स रैकेट मामले के तार फरीदाबाद से जुड़े हैं। फरीदाबाद सहित एनसीआर व यूपी से युवतियों को दादरी में लाकर देह व्यापार करवाया जा रहा था। मामले में फरार होटल संचालिका व उसके ड्राइवर को पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया तो मामला उजागर हुआ। दोनों को कोर्ट में पेश कर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर की छापेमारी
बता दें कि गत 2 जुलाई को महिला थाना पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर दादरी-रोहतक बाईपास स्थित रिद्धी-सिद्धी होटल पर छापेमार कार्रवाई करते हुए सैक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया था। पुलिस ने उस समय दो युवतियों, दो युवक व होटल के नौकर को गिरफ्तार किया है। जबकि होटल संचालिका व उसका ड्राइवर फरार हो गया था।

एनसीआर, फरीदाबाद व यूपी से जुड़े सैक्स रैकेट के तार
इस मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए निरीक्षक ओमप्रकाश की टीम द्वारा होटल संचालिका दादरी शहर निवासी ऊषा जांगड़ा व उसका ड्राइवर चंपापुरी निवासी विक्की को गिरफ्तार किया। पुलिस द्वारा दोनों से पूछताछ की गई तो सैक्स रैकेट के तार एनसीआर, फरीदाबाद व यूपी से जुड़े मिले। फरीदाबाद निवासी एक युवती होटल में युवतियां सप्लाई करने का कार्य करती थी। हालांकि फरीबाद निवासी युवती अभी फरार चल रही है। निरीक्षक ओमप्रकाश ने बताया कि होटल में पिछले डेढ़ वर्ष से रेह व्यापार का धंधा चल रहा था।

दादरी में ग्राहकों के लिए युवतियां करती थी सप्लाई
गिरफ्तार होटल संचालिका व ड्राइवर से की गई पूछताछ में खुलासा हुआ है कि फरीदाबाद निवासी युवती दादरी में ग्राहकों के लिए युवतियां सप्लाई करती थी। उन्होंने बताया कि फरार युवती की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। फिलहाल गिरफ्तार होटल संचालिका व उसके ड्राइवर को कोर्ट में पेश किया गया है।

Continue Reading

उत्तर प्रदेश

अबू सलेम का गुर्गा गजेन्द्र सिंह गिरफ्तार, डी कंपनी का डर दिखा कर था वसूली

Published

on

By

नोएडा । उत्तर प्रदेश के स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) को बड़ी सफलता मिली है। एसटीएफ ने बीती देर रात मुंबई सीरियल ब्लास्ट के आरोपित अबू सलेम के गुर्गे गजेन्द्र सिंह को गिरफ्तार कर लिया है।

नोएडा एसटीएफ के डीसीपी राजकुमार मिश्रा ने गुरुवार को बताया कि मंगलवार की देर रात यूपी एसटीफ की नोएडा यूनिट ने एक गुप्त सूचना के बाद नोएडा सेक्टर 20 से गजेन्द्र सिंह को गिरफ्तार कर लिया। गजेन्द्र मुंबई सीरीयल ब्लास्ट का आरोपित व कुख्यात डी कम्पनी का कुख्यात अबु सलेम और खान मुबारक का निकट सहयोगी है। गजेंद्र सिंह डी गैंग का डर दिखाकर पैसे हड़पने और वसूली का काम करता है।

डीसीपी मिश्रा ने बताया कि गजेन्द्र सिंह ने वर्ष 2014 में दिल्ली के एक बिज़नेसमैन से प्रॉपर्टी देने के नाम पर एक करोड़ अस्सी लाख हड़प लिए और जब पैसे वापसी का दबाव पड़ने लगा तो बिज़नेसमैन पर खान मुबारक के शूटर्स से सेक्टर 18 में गोली चलवाया था।

इस शूटिंग के लिए गजेंद्र ने खान मुबारक को 10 लाख रुपये भी दिए थे। इसका भी सबूत मिला है। एसटीएफ ने उस तंत्र का भी पता लगाया है, जिस माध्यम से खान मुबारक को रुपये दिए थे। मिश्रा के अनुसार आरोपित गजेंद्र सिंह बदमाश खान मुबारक और अबु सलेम के पैसे नोएडा समेत पूरे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में प्रॉपर्टी में भी लगाता है। उन्होंने बताया कि गजेन्द्र सिंह थाना 20 के दो मुक़दमों में वांछित भी चल रहा था।

Continue Reading

Trending